कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे की स्थिति को लेकर जताई नाराजगी

0
201

कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे की स्थिति को लेकर बहुत नाराजगी जताई है। उन्होंने NHAI के अफसरों को कहा कि निर्माण एजेंसी को नोटिस जारी करें और सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेसवे में जहां पर भी काम हो रहा है वहां सुरक्षा का भी पालन कराया जाए।

शुक्रवार शाम को वीडियोकांफ्रेंसिंग से कमिश्नर ने NHAI के अलग-अलग प्रोजेक्ट की समीक्षा की। कमिश्नर ने विशेष तौर से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे, NH-709, मेरठ-शामली सेक्शन, NH-58 मेरठ मुजफ्फरनगर, NH- 235 मेरठ-बुलंदशहर, NH-334B मेरठ-बागपत, NH-119 मेरठ-नजीबाबाद, दिल्ली देहरादून इकोनामिक कॉरिडोर और मेरठ-गढ़मुक्तेश्वर फोरलेन परियोजनाओ में आ रही परेशानियों पर चर्चा की। समीक्षा में कमिश्नर ने गाजियाबाद एवं बागपत में वन विभाग से संबंधित अनापत्तियों/स्वीकृतियों आदि कार्यों को अनावश्यक रूप से पैंडिंग रखा पाया गया। वन विभाग के अफसर सक्रिय कोशिश नहीं कर रहे हैं। इस पर भी नाराजगी जताई। बैठक में वन संरक्षक की अनुपस्थिति रही जिसपर स्पष्टीकरण के निर्देश दिए गए। वहीं दिल्ली-मेरठ-एक्सप्रेसवे पर हुए मिट्टी कटान के संबंध में नाराजगी जताते हुए एनएचआई अफसरों को निर्देश दिए गए कि संबंधित निर्माण एजेंसी के खिलाफ नोटिस जारी कर कार्रवाई की जाए। NHAI अफसरों से यह अपेक्षा की गई कि हाईवे किनारे जहां पौधारोपण हो तो वहां छोटे पौधे ना लगाएं। बड़े पेड़ लगाए जाएं। मेरठ-गढ़ हाईवे निर्माण के दौरान सिर्फ रोड के एक तरफ के वृक्ष काटे जाएं। पुराने वृक्षों को कम से कम नुक़सान हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here