गैंगस्टर भूपेन्द्र बाफर पहुंचा जेल की सलाखों में

0
29

मेरठ । हत्या, अपहरण और डकैती की वारदात से देश के कई राज्यों में अपनी दहशत फैलाने वाला गैंगस्टर भूपेंद्र बाफर बुधवार को STF मेरठ की पकड़ में आ गया। वेस्ट UP के डॉन सुशील मूछ और बदन सिंह बद्दो से दुश्मनी मानने वाले बाफर ने कई बार चोला बदलने की कोशिश की, लेकिन क्राइम की दुनिया से बाहर निकल मेरठ का यह गैंगस्टर सियासत में रम न सका।

मथेड़ी जिला मुजफ्फरनगर का डॉन सुशील मूछ कभी भूपेंद्र बाफर का दोस्त हुआ करता था। दोनों में किसी बात पर अदावत हो गई और दोनों एक-दूसरे के दुश्मन हो गए। मूछ को मरवाने के लिए बाफर ने प्लान भी बनाया।

हत्या की जिम्मेदारी मिर्जापुर जेल में बंद जौहरा गांव के कुख्यात रोहित उर्फ सांडू को सौंपी गई। इसके तहत कोर्ट में पेशी से मिर्जापुर लौटते समय सांडू को 2 जुलाई 2019 को जानसठ क्षेत्र में पुलिस पर गोलियां बरसाकर छुड़ा लिया गया। इस दौरान दो पुलिस कर्मियों को गोली लगी। जिनमें घायल दारोगा दुर्ग सिंह की इलाज के दौरान एक सप्ताह बाद मौत हो गई।

इस मामले में कुख्यात भूपेंद्र बाफर समेत 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया, लेकिन कोविड काल में हाईकोर्ट के आदेश पर 17 नवंबर 2020 काे उसे 1 लाख के मुचलके पर रिहा कर दिया गया। गैंगस्टर एक्ट में दर्ज मुकदमे में बाफर के खिलाफ 15 जनवरी 2021 को कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की गई।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here