मेरठ में त्योहार से पहले महंगी हुईं सब्जियां

0
17

मेरठ । लगातार बारिश के चलते मेरठ में सब्जी पर महंगाई की मार पड़नी शुरू हो गई है। अभी अगस्त शुरू ही हुआ है और त्योहार शुरू होने में 10 दिन का समय बाकी है। उससे पहले ही सब्जियों के रेट आसमान छूने लगे हैं। 40 रुपए किलो बिकने वाली मटर का रेट मेरठ में 150 से 160 किलो तक जा पहुंचा है। अन्य सब्जी भी महंगी हुई हैं। 10 से 15 रुपए किलो बिकने वाली तोरई 35 रुपए पर जा पहुंची है। आलू का रेट 38 रुपए किलो तक पहुंच गया।

बक्सर मंडी के सब्जी विक्रेता मोहम्मद जावेद का कहना है कि पिछले 5 दिन से लगातार बारिश हो रही है। बारिश के चलते मंडी में भी सब्जी की कमी है मटर का रेट सबसे ज्यादा पहुंच गया है। मटर अचानक 80 रुपए प्रति किलो से बढ़कर 160 रुपए किलो तक जा पहुंच गई। मटर के बाद लौकी भी महंगा हुआ है। लौकी 50 प्रति किलोग्राम की दर से बेचा जा रहा है। अदरक 130 रुपए किग्रा पहुंच गया है।

प्रतिदिन हो रही बारिश से बेल वाली सब्जियों को नुकसान पहुंच रहा है। लौकी के अलावा तोरई भी शामिल है। जबकि बैंगन में मौसम बदलने से कीट लगने की वजह से बैंगन की फसल को नुकसान पहुंच रहा है। भिंडी बारिश के चलते समय से नहीं टूट रही। भिंडी की जुलाई और अगस्त में खपत ज्यादा रहती है। टमाटर 40 से 50 रुपये प्रति किलोग्राम है।

मेरठ का लावड़, खरखौदा, इंचौली और परतापुर क्षेत्र में सब्जी अधिक उगाई जाती है। वहीं हापुड़ के क्षेत्र में गोभी, लौकी, हरी मिर्च और भिंडी भी उगाई जाती है। हापुड़ और मेरठ से सब्जी इन दोनों जिलों के अलावा गाजियाबाद, नोएडा और दिल्ली तक भी सप्लाई की जाती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here