15 जून के बाद मेरठ में मिलेगी गर्मी से राहत? 

0
48

मेरठ। मेरठ में भारी गर्मी और धूप से 15 जून के बाद लोगों को कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक 15 जून के बाद पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण वेस्ट यूपी का तापमान बदल सकता है। हल्की बारिश और हवा चलने से गर्मी में राहत की उम्मीद है। जून के पहले दिन से पारा 40 डिग्री से नीचे नहीं गिरा है, ऐसे में लोग बार-बार भगवान से गर्मी कम करने की प्रार्थना कर रहे हैं। रविवार को मेरठ में अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री सेल्सियस तक रिकार्ड किया गया। सोमवार को सुबह से ही पारा 38 डिग्री पर अटका है। दिन में गर्मी बढ़ने की और संभावना है।

एक तरफ भीषण गर्मी, तेज धूप, लू के थपेड़े लोगों को परेशान कर रहे हें, वहीं बिगड़ती हवा के कारण सांस लेना दूभर हो गया है। शहर में पीएम 2.5 का लेवल भी तेजी से बढ़ा है। रविवार को मेरठ का एयर क्वालिटी इंडेक्स 375 तक चला गया। सोमवार सुबह से भी यही हाल है। मॉर्निंग वॉक करने वाले और स्टेडियम में खेलने आने वालों को धूल और प्रदूषण के कारण सांस लेने में परेशानी हो रही है। पर्यावरणविदों के अनुसार गर्मी में हानिकारक गैसें तेजी से रिलीज होती हैं, आग लगने की घटनाएं काफी हो रही हैं ऐसे में वायुमंडल में हानिकारक गैस सल्फर, कार्बन, नाइट्रोजन का लेवल बढ़ जाता है और पॉल्यूशन बढ़ता है।

गर्मी और प्रदूषण के कारण डायरिया, उल्टी, दस्त, आंखों में इंफेक्शन ऐसी सीजनल बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। इस गर्मी में पेट का इंफेक्शन भी तेजी से फैलता है। कुछ भी मसालेदार या तैलीय खाते ही पेट में इंफेक्शन हो रहा है। बाहर ठेले पर मिलने वाले जूस व दूसरे पेय पदार्थ पीकर भी बीमार हो सकते हैं। फिजिशियन डॉ. तनुराज सिरोही के अनुसार इस मौसम में पानी ज्यादा पिएं। नमक, शक्कर, नींबू का घोल पिएं। घर का बना हल्का खाना दाल, दलिया, सलाद खाएं। दही का सेवन करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here