शिवभक्तों की सेवा के लिए शुरू हुए शिविर लगने

0
45

सरधना। हरिद्वार से जल लेकर आने वाले शिवभक्तों की सेवा के लिए लोगों ने कांवड़ मार्ग पर शिविर लगाने शुरू कर दिए हैं। सरधना क्षेत्र की बात करें तो यहां दर्जनभर शिविर लगते हैं। जिनमें क्षेत्र के लोग शिवभक्तों के रुकने, खाने तक का सभी इंतजाम करते हैं। प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद लोगों ने शिविर लगाने शुरू कर दिए हैं।

बता दें कि कांवड़ यात्रा मार्ग पर सलावा से भलसौना तक सरधना थाने की सीमा आती है। इस सीमा क्षेत्र में सलावा के अलावा कपसाड़, अटेरना, मानपुरी, सरधना पुल, सिंचाई विभाग की कोठी, नानू पुल, बहादरपुर, भलसौना आदि तक दर्जनभर सेवा शिविर लगते हैं। शिविरों में शिवभक्तों के रुकने, उनके खाने, चिकित्सा, स्नान आदि सभी की व्यवस्था की जाती है। सरधना पुल पर लगने वाले शिविर में प्रतिदिन सुंदर झांकियों का प्रदर्शन होता है जो पूरी कांवड़ यात्रा के दौरान आकर्षण का केंद्र रहता है। फिलहाल शिविर लगाने के लिए अधिकारियों के पास लोग अनुमति लेने आ रहे हैं। नए शिविर की अनुमति नहीं दी जा रही है जबकि जो शिविर लंबे समय से लगते आ रहे हैं उनको अनुमति दे दी गई है। अनुमति मिलने के बाद लोगों ने शिविर लगाने शुरू कर दिए हैं। मंगलवार को मानपुरी वाले शिविर में अधिकतर तैयारियां पूरी हो गई थी। शिव भक्तों की कांवड़ रखने के लिए कई जगह बल्लियां लगाई गई हैं। इसके अलावा उनके आराम करने के लिए कमरानुमा झोपड़ियां बनाई गई हैं। इसके अलावा अन्य शिविर स्थलों पर भी सफाई का कार्य शुरू हो गया था। एक दो दिन में वहां भी कार्य शुरू हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here